Saturday, February 6, 2010

vitiligo याने सफेद दाग एक सामान्य जानकारी

सफेद दाग जिसे की आयुर्वेद मै श्वेत कुष्ठ के नाम से जानते है एक ऐसी बीमारी है जिससे कोई भी व्यक्ति बचना चाहेगा..इस बीमारी मैं व्यक्ति की त्वचा पर सफेद चकते बनने प्रारंभ हो जाते है ..और कई वार यह पूरे पूरे शरीर पर फैल जाती है…..वैसे विटिलिगो नामक इस बीमारी का कुष्ठ रोग से कोई लेना देना नहीं है.जहां कुष्ठ रोग का प्रमुख लक्षण ही त्वचा मैं संवेदना खत्म होना या सूनापन होना होता है…वहीं त्वचा मैं से रंग का अनुपस्थित होना कभी कभार ही होता है बल्कि अधिकतर बार त्वचा सामान्य रंग की ही होती है……

definition-vitiligo is an acquired idiopathic disorder characterized by circumscribed depigmented macules and patches.functional melanocytes disappear from involved skin by a mechanism that has yet not been defined.

अर्थात विटिलोगो एक ऐसी व्याधी हे जिसमें शरीर पर एकदम सफेद चकते बन जाते है ये चकते त्वचा मैं मिलेनोसाईट्स जो कि त्वचा मैं रंग बनाने के लिए जिम्मेदार होते है उनकी अनुपस्थिति की वजह से होती है पर मिलेनोसाईट्स क्यों त्वचा से अनुपस्थित होती है इसके बारे मैं अलग अलग सिद्धांत जरूर हैं पर अधिकारिक रूप से नहीं कहा जा सकता है कि क्यों ऐसा होता है.

मिलेनोसाईट्स के नष्ट होने के अनेक प्रकार के कारण खोजे गये है ….पर जिस कारण को आधार मानकर उपचार किया जाता है और जो सबस मह्तव पूर्ण कारण माना गया है वो है….autoimmune destruction of melanocytes अर्थात शरीर के प्रतिरोधक तंत्र मैं त्रुटी की वजह से मिलेनोसाईट्स का नष्ट होना.

clinical features-विटिलिगो मैं जो निशान बनता है …वह पूरी तरह से मिलेनोसाईट्स से रहित होता है इसलिए यह एक सुस्पष्ट सीमाओं वाला सफेद दूध(milky white or ivory white colored) जैसा सफेद निशान होता है.यह शरीर के किसी भी हिस्से मैं हो सकता है…पर अधिकतर यह त्वचा के वे भाग जिनका रंग आस पास की त्वचा से गहरा होता है वहां सबसे पहले प्रारंभ होता है….जैसे चेहरे पर ये अधिकतर आंखो के चारों ओर प्रारंभ होता है…या फिर वे स्थान जहां सबसे ज्यादा रगङ लगने की संभावना होती है या चोट लगती है अर्थात traumatic sites over body  जैसे कुहनी.घुटना,टखना..या कमर पर नाङा बांधने की जगह….

ये निशान एक से लेकर अनेक तक कितनी भी संख्या मैं बनने के बाद धीरे धीरे आकार मैं बढते चले जाते हैं…बढने की गति इसके प्रकार पर निर्भर करती है…और यदि ध्यान नहीं दिया जाये तो कई बार ये पूरे शरीर के ऊपर फैल सकती है.

vitiliugo को इसके होने के प्रकार के आधार पर अनेक भागों मैं बांटा गया हैं….जिसमें दो प्रमुख प्रकार माने गये हैं- vitiligo_1_010205

  • unilateral-जो कि शरीर के मध्य यदि एक रेखा खींचें तो बीच की रेखा को पार न करे.
  • and bilateral याने जो शरीर के दोनों तरफ हो सकता है.

एक अन्य प्रकार जिसमें विटिलिगो को तीन प्रकार मैं बांटा गया है

  • localized-जो शरीर के एक थोङे से हिस्सें मैं हो…
  • generalized-याने जिसमें छोटे छोटे चकते शरीर के अधिकांश हिस्सें मैं हो….करीब 90 प्रतिशत तक विटिलिगो जो हैं इसी प्रकार का होता है.
  • universal-जिसमें शरीर पर चकते न बनकर पूरा शरीर ही करीब करीब सफेद हो जाता ह.

इसके अलावा भी विटिलोगो को इसकी गति के आधार  पर दो भागों मैं बांटा गया है

prograssive-जब विटिलिगो तेजी से बढ रहा होता है.

stableजब विटिलिगो की बढत रूक गई है…

उपचार----उपचार करने मैं दो तरह की औषधिया काम मैं ला जी जाती है…एक वे जो  जो प्रति रोधक तंत्र मैं फेरबजल कर के     व्याधी के बढने को रोकती है….और दूसरी वे जो गये हुए रंग को वापिस बनाती है …..

  • narrow band uvb therapy- Ultraviolet (UV) light विध्युत चुंबकीय किरणें है जिनका तरंग दैर्ध्य प्रकाश की  दिखने वाली किरणों से कम और एक्स रे से ज्यादा होता है.

    pp1

    चूं कि इनका तरंग दैर्ध्य प्रपकाश के स्पैक्ट्रम मैं दिखने वाली violet याने बैंगनी किरणों के तरंग दैर्ध्य से छोटा होता है इसलिए इनका नाम Ultraviolet (UV)  किरणें है.UV-B(280-315nm waveband )की प्रकाश किरणें होती है.narrow band uvb therapy मैं एक विशेष प्रकार कै प्रकाश स्त्रोत से 310 nm की किरणें निकलती है….इसका विटिलिगो के निशान पर बहुत ही अच्छा प्रभाव होता है और रंग वापिस आने लगता है.सामान्यतया प्रारंभ मैं 250 मिलीजूल प्रति सैंमी की डोज मैं ये दी जाती है इसके बाद हर बार इससे करीब 10 –20 प्रतिशत तक  इसे बढाया जाता है.ये उपचार सपताह मैं 2 से तीन बार तक किया जाता है.   क्यों कि इस उपचार मैं मुंह से किसी प्रकार की औषधी बिना दिये भी किया जा सकता है इसलिए इसे 6 साल के बच्चे से लेकर बङों तक विटिलिगो के उपचार मैं इस प्रथम पंक्ति का उपचार(drug of choice) माना गया है.ये उपचार हालांकि थोङा महंगा अवश्य है…क्यों कि इस तरह के विशेष प्रकाश स्त्रोत की कीमत हजारों से लाखों रूपये तक होती है.Vitiligo_1_030314
  • PUVA therapy-PUVA याने psoralene +UVA therapy.इस उपचार मैं एक विशेष प्रकार की दवाई जिसे की psoralene कहते हैं वह दी जाती है…..ये औषधी खाने और लगाने दोनों ही प्रकार से दी जा सकती है    उसके कुछ समय बाद UVA दिखाई जाती है …..मिलेनोसाईट्स के रंग बनाने मैं uva ये psoralenes की उपस्थिति एक उत्प्रेरक का काम करती है.और रंग बनना प्रारंभ हो जाता है. जैसा कि पास मैं बने हुए चित्र मैं दिखाया  गया है उपचार के दौरान जब वापिस रंग बनना प्रारंभ होता हैं तो वो हमेशा यह बालों की जङों से ही निकलता है.

स्टीराईड्स-प्रेडिनिसोलोन,बीटामेथासोन,मिथाईल प्रेडिनिसोलोन आदि अनेक औषधियां जो कि स्टीराईड ग्रुप मैं आती है…ये विटिलोगो मैं बङी ही उपयोगी है.पर इनके साईड इफैक्ट्स ज्यादा होने की वजह से इनका प्रयोग किसी विशेषज्ञ द्वारा ही किया जाये तो ठीक रहता है.

स्टीराईड्स कई प्रकार से दी जा सकती है जैसे प्रतिदिन,या मिनिपल्स थैरेपी जैसे सप्ताह मैं लगातार दो दिन या फिर महिने मैं दो या तीन दिन तक जिसे पल्स थैरेपी कहते हैं.मिनि पल्स या पल्स थैरेपी मैं सामान्य से चार से दस गुणा तक औषधी को दो या तीन दिन मैं दे दिया जाता है और वो भी चिकत्सक की देख रेख मैं ….कई सारे अध्ययनों से ये सिद्ध हुआ है कि प्रति दिन स्टीरायड देने की बजाय पल्स या मिनिपल्स थैरेपी से स्टीरायड देने से साईड इफैक्टस काफी हद तक कम हो जाते है.पर उनसे होने वाले लाभ मैं कोई कमी नहीं आती है.

स्टीरायड औषधियां क्रीम के रूप मैं लगाने के भी काम मैं ली जा सकती है.इसके अतिरिक्त भी टैक्रोलिमस,लिवैमिसौल आदि अनेक औषधियां हैं जो इसके उपचार मैं काम मैं ली जाती है .

शल्य चिकित्सकीय उपचार-जब विटिलिगो कई दिन उपचार करने के बाद भी ठीक नहीं हो रहा होतो ये तरीके काफी कारगर सिद्ध हो सकते हैं.शल्य चिकित्सकीय उपचारों मैं स्प्लिट थिकनैस स्किन ग्राफ्टिंग.पंच ग्राफ्टिंग,आदि अनेक तरीके हैं जिनका यहां सिर्फ नाम जानना ही पर्याप्त हैं….या फिर कभी मौका लगा तो इसके बारे मैं जानकारी देंगे.

उपसंहार-कुल मिलाकर यह एक ठीक होने लायक बीमारी है…लाईलाज नहीं है…और यदि सही समय पर उपचार प्रारंभ किया जाये तो इसमें अच्छे परिणाम मिलते हैं….पर ये बात हमेशा याद रखें कि उपचार के बाद ये वापिस कभी भी हो सकती है…और कई बार नहीं भी होती है…पर ये निश्चत है कि इसका उपचार संभव है…..

25 comments:

Dipti said...

आपकी ये जानकारी महत्वपूर्ण तो है लेकिन, मुझे इस बात पर कुछ शक है कि ये ठीक हो सकता है। मेरी बुआ इसी से पीड़ित हैं और अब वो पुरी तरह से सफेद हो चुकी हैं। उन्होंने भी कई तरह के इलाज करवाए थे। लेकिन, फायदा किसी से कुछ नहीं हुआ।

संजय बेंगाणी said...

आज पता चला कि इलाज हो सकता है. अच्छी जानकारी.

मिहिरभोज said...

दीप्ति जी आपकी शंका जायज है....इलाज संभव है पर वापिस नहीं हो ये नहीं कहा जा सकता है...वापिस होने पर आपको फिर से ईलाज लेना पङ सकता है....

बालमुकुन्द अग्रवाल,पेंड्रा said...

इंटरनेट पर विचरण करते हुए आपके ब्लाग पर आगमन हुआ.आपके विचारों से अवगत हुआ.मेरी यह धारणा थी कि सफेद दाग ठीक नहीं हो सकता,आज भ्रम दूर हो गया. यशस्वी एवं सार्थक ब्लाग जीवन के लिए शुभकामनाएं स्वीकारें

नरेश सिह राठौड़ said...

मैंने भी इस बारे में काफी जगह पढ़ा है की यह बीमारी ठीक हो सकती है | लेकिन यह भी जरूरी है की आप जैसे किसी अनुभवी चिकित्सक की देख रेख में ही इलाज हो तो बेहतर संभावना बन सकती है |

Anonymous said...

sir mera naam kuldeep hai or mere neeche wale hoat (Lip) par ek safed daag hai jis ke karan mere ko badi mansik pareshani aati hai

aap mere ko kuch advise de sir

ya phir koi medicine

Anonymous said...

Hi there i am kavin, its my fіrst time to commenting
anyplacе, when i rеad this piece of ωritіng i thought i could also create сοmment duе to thіs brilliant piece of ωriting.


Feel frеe to ѕurf to my web blog Stretch Marks Quotes

ravindra rana said...

hello sir,i m ravindra rana frm meerut..sir mujhe safed daaag ki problm h nd lagbhag 6-7 years se h bt mere daag jyada nhi h bass khi khi h body par..jaise ki hato par nd gardan par chote chote nisaan h...sir mujhe kisi acche illaz ki salah de plz....aap plz muje mail kre -rravindra606@gmail.com.....thank you.....

Jani Amit said...
This comment has been removed by the author.
Jani Amit said...
This comment has been removed by the author.
sahil sardana said...

Hello sir my self is sahil nd my age is 21 Years nd sir ye vitiligo bimari mujhe kafi tym se hh nd body per ke parts me but kafi tym se stable hh nd kafi treatment kia hh thoda bhut farak bhi h but perfactly nhi nd jb tak perfactly thik nhi ho jata tb tak m treatment krta rahunga But Sir mujhe kbhi lagta h ki farak lag rha h but sir beech me lagta h ki farak lagna fir se ruk gya hh sir esa kya perhej h ki regular farak lagta rahe plz sir reply me Sahil.sardana15@gmail.com nd mob nmbr is 9541098097

abhimanyu said...

sie mujhe safed dag ho gaya hai ye karib sat sall se hai par thora hato ki tali mai or hotho par hai ye bahut dhere dhre bhar rara hai plz sir mujhe iska ilage bataye mujhe mail kare abhimanyubbm@gmail.com

abhimanyu said...

sie mujhe safed dag ho gaya hai ye karib sat sall se hai par thora hato ki tali mai or hotho par hai ye bahut dhere dhre bhar rara hai plz sir mujhe iska ilage bataye mujhe mail kare abhimanyubbm@gmail.com

अजय said...

बहुत अच्छी जानकारी दी आप ने श्रीमान ..........

अजय said...

बहुत अच्छी जानकारी दी आप ने श्रीमान ..........

pavan chaubey said...

SIr mere dono pair me ghutne k neeche ye problem kaphi samay se hai sir plzzz mujhe koi medicine ya sujhaw mujhe pavanchaubey2@gmail.com par mail kare plzzz

Anonymous said...

Me jab chota tha 5yr us samay meri ankho pr safed daag the to ek doctor ne muje injection lagaya tha ankho par uske baad wo daag mit gaye or aaj 35 yr ka ho jane k baad wapas ho gaye doctor ne us inj ka naam nahi bataya anyone know that inj name plz share 9672720054

Anonymous said...

sir mera name Deepak hai sir mai 5year se 20year ka ho gaya hau tab se mujhae safid daag hai mai ne bahut dava kiya abhi tak mera daag nahi thiak hua hai koi upay battiya
number9044664117

vineet said...
This comment has been removed by the author.
Surendra Yadav said...

sir my name is surendra hai. main faizabad up se hu. 2004 se mere lips par neeche safed daag ho gya hai koi treatment batayien mob-9454965995

Surendra Yadav said...

sir my name is surendra hai. main faizabad up se hu. 2004 se mere lips par neeche safed daag ho gya hai koi treatment batayien mob-9454965995

Anonymous said...

mera no. 9304389322 hai please give me some advice.

Anonymous said...

Hello,
mera naam deepak hai mujhe ye white spot 12-15 saal se hai...maine ye sabhi ilaj apna rakhe hai jinki baat aap sab uper kar rahe the...maine allopathic dawaiya bhi khai aur desi dawaiya bhi...bht dawaiya khane per ye theek to hue per dubara ho gaye aur sharir ka sara colour bhi bht dark ho gaya tha..maine homopathic dawai shuru ki use khate khate mujhe 10 saal ho gaye hai per main ab bilkul theek hu aur koi naya nishan bhi nahi nikla hai...ye dawai main aj bhi kha raha hu kyoki mujhe darr hai kahi ye dubara na ho jaye....ek chota sa nishan mere abhi bhi hai per wo na hathta hai aur badta hai...ek jagha per ruka hua hai...per homopathic se mere sar ke mere hatho ke meri peeth peth pear sab ke nishan theek ho gaye hai..aap bhi homopathic try kar sakte hai per kab tak theek hoge ye nahi bol sakta kyoki maine ye dawai 10-12 saal khai hai...aur aj bhi kha raha hu

amit sharma said...

Bhai logo..

muje ek sal pehlay vitiligo ki problum hui thi aur ab ye bdhana band hai aur 60% thik ho chuka hai
aur maine iski dawai muzaffarnagar
city k andar ek village hai parasoli
usme jain sahab hai jinki steel factory hai aur wo free aushdhi provide kartay hai..bus shart ye hai ki ki treatment mai time jyada lagega

amit said...

Mujhe afed dag hain aankho ke upar uhe hain abhi kya karu plz batiye
sangwana02@gmail@com
Plz reply me
Quicaly

LinkWithin

Related Posts with Thumbnails

चिकित्सक की सलाह

यदि आपको अपनी किसी त्वचा या अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्या के बारे मैं पूछना हो तो आप मैल कर सकते हैं.drdhabhai@gmail.com